विज्ञान के चमत्कार निबंध 2023 {अलग-अलग शब्द सीमा}| Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

आज विज्ञान का योगदान प्रत्येक क्षेत्र में है। एक छोटी सी पिन से लेकर अंतरिक्ष यान तक सभी विज्ञान की ही देन है। विज्ञान ने मनुष्यों को अनगिनत चीजें प्रदान की है जैसे- हीट एक्सचेंजर, एयर प्रेशर मीटर, कैमरे की अलग-अलग वैरायटी, टेलीस्कोप, टेलीग्राम, टेलीप्रिंटर्स, माइक्रोफोन, केलकुलेटर, टेप, इंसानी रोबोट, अलग अलग तरीके के हथियार, आधुनिक मशीनें, स्मार्टफोन, खिलौने, कृषि के नए-नए उपकरण और चिकित्सा में उपयोग किए जाने वाले आधुनिक उपकरण आदि को विज्ञान ने ही हमें दिया है।

विज्ञान के चमत्कार निबंध,
विज्ञान का चमत्कार निबंध,
विज्ञान के चमत्कार निबंध कक्षा 9वी,
विज्ञान के चमत्कार हिंदी निबंध,
विज्ञान के चमत्कार निबंध 10th क्लास,
विज्ञान के चमत्कार हिंदी में,
विज्ञान के चमत्कार निबंध

EssayToNibandh.com पर आज हम ‘विज्ञान के चमत्कार निबंध’ पढ़ेंगे। जो की अलग अलग शब्द सीमा के आधार पर लिखे गए हैं। आप Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi को ध्यान से और मन लगाकर पढ़ें और समझें।

विज्ञान के चमत्कार को निम्न शब्द सीमा के आधार पर लिखा गया है-

आइये! विज्ञान के चमत्कार पर निबंध को अलग अलग शब्द सीमाओं के आधार पर पढ़ें।

नोट- यहां पर दिया गया विज्ञान के चमत्कार निबंध कक्षा(For Class) 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12,(विद्यालय में पढ़ने वाले) विद्यार्थियों के साथ-साथकॉलेज के विद्यार्थियों के लिए भी मान्य हैं।

निबंध विज्ञान के चमत्कार 50 शब्दों में

प्रकृति में उपस्थित वस्तुओं के क्रमबद्ध अध्ययन व ज्ञान को विज्ञान कहा जाता है। यह हमें घटना के पीछे के कारणों तथा बाद के परिणामों से भी अवगत करवाता है।

विज्ञान के आविष्कार के कारण हमारी जिंदगी सुखद व आसान हो गयी है। विज्ञान हमारे लिए वरदान भी है और अभिशाप भी। विज्ञान पूर्णता पर्यावरण को प्रभावित करता है।

विज्ञान के चमत्कार निबंध हिंदी में 100 शब्द

विज्ञान के महत्व

मनुष्य ने आज हर छोटे से छोटे और बड़े से बड़े कार्यों को करने के लिए विज्ञान की सहायता ली है। क्योंकि विज्ञान के बिना सभी कार्यों को करना थोड़ा मुश्किल भी है और असंभव भी।

आज विज्ञान ने चिकित्सा के क्षेत्र में भी काफी तरक्की कर ली है। कंप्यूटर तथा आधुनिक उपकरणों के कारण आज चिकित्सा के क्षेत्र में काफी सुधार हुआ है। आज हमारी रक्षा के लिए हमारे पास हजारों मिसाइलें हैं।

विज्ञान के कारण ही हमारा देश अंतरिक्ष में पहुंच पाया है और मंगल, चांद जैसे ग्रहों पर पहुंच पाया है। विज्ञान ने कई आधुनिक यंत्र भी बनाए जिससे किसानों को काफी मदद मिली है जिससे फसल की पैदावार भी में वृद्धि हुई है।

विज्ञान के चमत्कार का निबंध 150 शब्दों में

विज्ञान अभिशाप के रूप में

विज्ञान के उपयोगों का जितना वर्णन किया जाए वह कम ही है, फिर भी इसके नुकसान भी बहुत है। यदि किसी चीज का गलत उपयोग किया जाता है तो उसके दुष्परिणाम काफी होते हैं।

ऐसी ही आज का मनुष्य विज्ञान के संसाधनों का बहुत ही गलत उपयोग कर रहा है मनुष्य ने विज्ञान के आविष्कारों का गलत उपयोग करके खुद के लिए गड्ढा खोद लिया है।

महत्व जानो ज्ञान की,
शक्ति पहचानो विज्ञान की।

इसलिए मानव जीवन में विज्ञान अभिशाप बनता जा रहा है। विज्ञान के कई लोग ऐसे आविष्कार है जिनके कारण गरीबों की रोजी-रोटी खत्म हो गई है।

अब हस्तकला के स्थान पर बड़ी-बड़ी मशीनों के द्वारा कार्य किया जाता है। जिसके कारण मजदूरों को काम नहीं मिल पा रहा है।

लोगों के रोजगार छीन रहे हैं, मनुष्यों की जगह अब मशीनें कार्य करती है। जो गरीब लोग मेहनत-मजदूरी करके अपने परिवार का पालन पोषण करते थे।

आज विज्ञान के कई आविष्कारों के कारण उनका काम छीन गया है। ऐसे ही कई संसाधन है जिसके कारण विज्ञान को अभिशाप कहना गलत नहीं होगा।

विज्ञान के चमत्कार हिंदी निबंध 200 शब्द

वरदान के रूप में विज्ञान

वर्तमान समय में मनुष्य अपने जीवन में काफी आगे बढ़ चुका है। विज्ञान के कारण ही मनुष्यों ने काफी तरक्की कर ली है। अब बिना विज्ञान मनुष्य जीवन की कल्पना करना भी असंभव है।

प्रारंभ में मनुष्य जानवरों के जैसा था, तब न पहियों का आविष्कार हुआ था और ना ही बिजली थी। तब लोगों को भोजन पकाना भी नहीं आता था। मगर विज्ञान ने अपने आविष्कारों ने मनुष्यों का जीवन परिवर्तन कर दिया।

सब समस्याओं का हल निकलना चाहिए,
हर क्षेत्र में एक वैज्ञानिक होना चाहिए।

आज विज्ञान की वजह से मनुष्य ने इतनी तरक्की कर ली है कि आज संसाधन के साधनों में, शिक्षा, मनोरंजन, चिकित्सा के क्षेत्र में, लगभग हर कार्य में विज्ञान के संसाधनों के कारण मनुष्य बहुत अग्रिम हो चुका है।

टी.वी., फ्रिज, वाशिंग मशीन आदि के कारण ही आज मनुष्यों के लिए दैनिक कार्य करना काफी ज्यादा आसान हो गया है। इसलिए विज्ञान को मानव जीवन के लिए वरदान कहा गया है।

विज्ञान का सदुपयोग एक वरदान है,
इसका दुरुपयोग एक अभिशाप है।

विज्ञान आज इतना आगे बढ़ चुका है कि कई ऐसे रोगों का इलाज आज संभव हो गया है जो कि पहले असंभव था। विज्ञान की मदद से अब कैंसर, टी.बी., जैसी बीमारियों का भी इलाज संभव हो गया है।

विज्ञान द्वारा तैयार इस्पात, खाद्य व उपकरण, खाद्य पदार्थ, वाहन, वस्त्र आदि बनाने के लिए आज असीमित कारखाने है। लघु व कुटीर उद्योग में भी विज्ञान के कारण काफी विकास हुआ है।

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 250 शब्दों में

‘विज्ञान एक वरदान है या अभिशाप’ निश्चित तौर पर यह कहना नामुमकिन है, क्योंकि विज्ञान ने हमारे विकास के क्षेत्र में काफी महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

मनुष्यों ने समय के साथ आगे बढ़ते हुए विज्ञान की खोजों को दिन प्रतिदिन विकसित किया है। विज्ञान के कारण ही मनुष्य के कार्य तेजी से हो पाते हैं।

उपयोग करें तो जीवन को खूबसूरत बनाता है,
विज्ञान युवाओं की आंखों में नये सपने जगाता है।

विज्ञान मानवता के लिए बहुत ही खूबसूरत तोहफा है। विज्ञान ने हमारे जीवन को आसान बनाया है। इसके आविष्कारों ने मानव जीवन को जीने का नजरिया ही बदल दिया है।

विज्ञान ने प्लास्टिक के ऐसे-ऐसे उपकरण बनाए हैं जिनका उपयोग हम दैनिक जीवन में करते हैं। इसमें भिन्न-भिन्न एंटीबायोटिक दवाइयां तथा इंजेक्शन का भी निर्माण किया हैं।

जो देश विज्ञान को मानता है,
वह देश की तरक्की को जानता है।

आज हम खाना बनाने में जिन उपकरणों का उपयोग करते हैं वह सभी विज्ञान की ही देन है जैसे- गैस, सिलेंडर, बर्तन, माइक्रोवेव, फ्रीज, स्टोव, इंडक्शन गैस इत्यादि।

हमारे दैनिक जीवन को आरामदायक तथा सरल बनाने के लिए हम हीटर, कूलर, पंखा, वाटर हीटर, प्रेस, ए.सी. आदि का उपयोग करते हैं। यह सभी विज्ञान के कारण ही संभव हो पाया है।

महत्व जानो शिक्षा विज्ञान की,
शक्ति पहचानो विज्ञान की।

विज्ञान ने हमें इंटरनेट दिया है जो संसार का सबसे गतिमान साधन है। यह विज्ञान की सबसे बड़ी उपलब्धि है। विज्ञान ने उपहार स्वरूप हमें ऐसी संपत्ति दी है जो कि हमारी आदतों में शामिल हो गई है और हमारी मूलभूत आवश्यकता बन गई है।

विज्ञान के चमत्कार निबंध 300 शब्द हिंदी में

प्रस्तावना

आज का युग विज्ञान का युग है क्योंकि हर तरफ हमें केवल और केवल टेक्नोलॉजी देखने को ही मिलती है विज्ञान ने कठिन से कठिन तथा असंभव कार्यों को भी सरल बना दिया है।

विज्ञान क्या है

‘वि’ का अर्थ होता है ‘विशेष’ अर्थात वि + ज्ञान से बनता है विज्ञान। विशेष ज्ञान को ही विज्ञान कहा जाता है और इसके चमत्कारों को तो हम सभी हर रोज अपने आस-पास देखते ही है।

रखो इकट्ठा साक्ष्य प्रमाण,
क्योंकि यह है हमारा विज्ञान।

विज्ञान की देन

विज्ञान की देन का वर्णन जितना भी करें कम है। जैसे-

  • टी.वी., फ्रिज, पंखा, माइक्रोवेव, आदि विज्ञान की ही देन है जिनका उपयोग हम रोजाना करते हैं।
  • समाचार पत्र के द्वारा हम देश-विदेश की खबरों को पढ़ते हैं, यह भी विज्ञान की ही देन है।
  • बस, कार, ट्रेन, हवाईजहाज, आदि के द्वारा हम एक स्थान से दूसरे स्थान पर बहुत कम समय में पहुंच जाते हैं।
  • कैंसर, टी.बी. खसरा, चेचक, ब्रेन ट्यूमर आदि असंभव बीमारियों का इलाज आज सिर्फ और सिर्फ विज्ञान के कारण ही संभव हो पाया है।
  • बिजली ने पूरी दुनिया को रोशन कर दिया है। और इसी के सहारे पंखा, कूलर, फ्रिज, आदि भी चलाए जाते हैं।
  • आज लोग अपनों से बात जब चाहे तब कर सकते हैं और उन्हें वीडियो कॉल के जरिए देख भी सकते हैं। यह केवल विज्ञान के कारण ही संभव हुआ है।
  • आज तरह-तरह की मशीनें उपलब्ध है जिससे कि बड़े-बड़े उद्योगों, इस्पात आदि का निर्माण हो पाया है।
  • विज्ञान की मदद से आज मनुष्य अंतरिक्ष में पहुंच पाया है और वहां भी अपने सपनों को पूरा करने का प्रयास कर रहा है।
  • विज्ञान ने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत योगदान दिया है। स्मार्ट क्लास, कंप्यूटर, लैपटॉप, आदि ने शिक्षा को नई दिशा दी है।

जो जीवन सरल बनाता है,
वही विज्ञान कहलाता है।

निष्कर्ष

विज्ञान को इंसानो ने अपने उपयोग के लिए बनाया है। आजकल हर व्यक्ति अपनी छोटी-छोटी जरूरतों के लिए विज्ञान पर निर्भर है और इसके बिना मनुष्य कुछ भी नहीं है।

vigyan ke chamatkar,
vigyan ke chamatkar nibandh,
vigyan ke chamatkar essay in hindi,
vigyan ke chamatkar essay,
vigyan ke chamatkar par nibandh,
vigyan ke chamatkar hindi nibandh,
vigyan ke chamatkar ka nibandh,
vigyan ke chamatkar hindi mein,
nibandh vigyan ke chamatkar
Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi
Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

विज्ञान के चमत्कार निबंध 400 शब्द

प्रस्तावना

विज्ञान ने मानव को असिमिति शक्ति प्रदान की है। आज हम विज्ञान के कारण ही बादलों के ऊपर उड़ पाए हैं। गहरे से गहरे पानी में भी सांस ले सकते हैं तथा कई मिलो की दूरियां चंद घंटों में तय कर लेते हैं।

विज्ञान से हानियां

विज्ञान कई क्षेत्रों में अत्यंत हानिकारक साबित हुआ है-

1. हवाई जहाज

हवाई जहाज के द्वारा हम कहीं भी बहुत ही शीघ्रता से पहुंच सकते हैं और देश विदेश घूम सकते हैं। मगर कभी-कभी जरा सी तकनीकी खराब होने के कारण यह हजारों लोगों की मौत की वजह बन जाता है।

2. हाई स्पीड गाड़ियां

हाई स्पीड गाड़ियां एक बड़े खतरे के रूप में सामने आई है। अक्सर लोग अपना आपा खोकर, किसी नशे में या फिर किसी शर्त के कारण तेज स्पीड में गाड़ियां चलाते हैं जिससे बड़े-बड़े एक्सीडेंट हो जाते हैं।

विज्ञान के आविष्कार,
सुख-सुविधा देते हैं,
लेकिन इसके दुष्परिणाम,
बहुत डरावने हो सकते हैं।

3. हथियार (रॉकेट, बम, मिसाइल)

हजारों प्रकार के हथियार, रॉकेट, बम तथा मिसाइलें और परमाणु शक्ति यह सभी मुसीबत के वक्त हमारे काम आते हैं। लेकिन आज इन सभी की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

यह बहुत ही खतरनाक शक्तियां है। इसका दुष्परिणाम 1945 में जापान के नागासाकी व हिरोशिमा में देखने को मिला था।

4. बेरोजगारी

हमारा काम आसान करने के लिए विज्ञान ने हमें बहुत सारे उपकरण दिए हैं। ऐसे उपकरण जो कई सारे लोगों का काम अकेले ही कर देते हैं।

इसी कारण से कंपनियों में लोगों के बजाय मशीनों का काफी तेजी से इस्तेमाल होने लगा है और बेरोजगारी बढ़ने लगी है।

विज्ञान के लाभ

विज्ञान ने मनुष्यों को जीने का नया ढंग दिया है। लोगों को विज्ञान के उपकरणों की आदत भी इस हद तक लग गई है की अब बिना विज्ञान के अपने जीवन की कोई कल्पना भी नहीं कर सकता।

हर व्यक्ति, हर क्षण अपने आसपास विज्ञान को ही पाता है। हर घर में टी.वी., फ्रिज, पंखा, वाशिंग मशीन, बल्ब, आदि है। ऑफिस में कंप्यूटर, लैपटॉप, और बाहर कार, बस, ट्रेन, हवाईजहाज आदि।

विद्युत उपकरणों के क्षेत्र में विकास

वैज्ञानिक थॉमस एडिसन द्वारा बल्ब का आविष्कार विद्युत उपकरणों के क्षेत्र में विज्ञान की बहुत बड़ी उपलब्धि है।

धीरे-धीरे करके विकास और ज्यादा हुआ टी.वी., फ्रिज, वाशिंग मशीन, कूलर, ए.सी. का भी अविष्कार हुआ और हमारे जीवन जीने के तरीके में काफी बदलाव आया।

निष्कर्ष

विज्ञान के संसाधनों का गलत उपयोग हमें कभी नहीं करना चाहिए। विज्ञान ने हमारे हर सपने को पूरा किया है। इसलिए हमें इसके साधनों का सही तरीके से उपयोग करके अपने जीवन को सफल बनाना चाहिए।

विज्ञान के चमत्कार हिंदी में 500 शब्द

प्रस्तावना

विज्ञान इंसानों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, वर्तमान युग पूरी तरह से विज्ञान का युग है। कंप्यूटर, मोबाइल, रॉकेट, मशीनें, एरोप्लेन, इत्यादि सभी विज्ञान की ही देन है। विज्ञान ने सभी के जीवन को सरल कर दिया है। इसके कारण हमारा काफी समय भी बच जाता है।

विज्ञान के क्रांतिकारी आविष्कार

विज्ञान ने मानवों को कई ऐसे उपहार दिए हैं जो कि उनके विकास को बढ़ावा देता है। यह उपहार निम्न प्रकार से है-

1. बिजली

बिजली के बिना मनुष्यों के जीवन की कल्पना भी अब नहीं की जा सकती। यह विज्ञान का बहुत ही बड़ा चमत्कार है।

वर्तमान में बिजली से ही सारे कार्य किए जाते हैं। अस्पतालों, औद्योगिक क्षेत्रों, कॉरपोरेट सेक्टरों और इसके अलावा लगभग सभी क्षेत्रों में बिजली का अत्यन्त महत्पूर्ण योगदान है।

विज्ञान का सदुपयोग वरदान है,
यह पृथ्वी का अभिमान है।

2. सिस्मोग्राफ

यह एक भूकंप मापी यंत्र है। भूकंप की तीव्रता मापने के लिए मर्कल्ली स्केल का उपयोग किया जाता है जबकि भूकम्प का परिमाण मापने के लिए रिक्टर स्केल का उपयोग किया जाता है। सिस्मोग्राफ की मदद से हमें यह पता चलता है कि किस स्थान पर भूकंप आने की संभावना है।

3. एनीमोमीटर तथा डॉप्लर रडार

यह एक ऐसा उपकरण है जिसका उपयोग प्राकृतिक आपदाओं की गति का अनुमान लगाने में किया जाता है। यह एक चक्रवात तूफान मापी यंत्र है।

समस्याओं के समाधान का हल पाओगे,
यदि विज्ञान की ताकत को समझ पाओगे।

4. प्रिंटिंग प्रेस

इस प्रेस का आविष्कार 1440 में, जर्मनी के जॉन गुटरबर्ग ने किया था। इसकी मदद से हम किसी भी चीज की अनेक कॉपी तेजी से कर सकते हैं। हम कम समय में किताबों की कॉपियां बना सकते हैं।

5. मोबाइल फोन

अमेरिकी वैज्ञानिक मर्टिन कपूर ने 1973 में मोबाइल का आविष्कार किया था। उस समय मोबाइल का वजन लगभग 2 किलो था। भविष्य में यह संसार का बेहतर साधन है तथा यह काफी हल्का भी है।

6. इंटरनेट

इन्टरनेट का पहली बार इस्तेमाल सन 1969 में किया गया था। यह मनुष्यों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण व उपयोगी है। इंटरनेट को संसार का सबसे गतिमान माध्यम माना जाता है।

7. मोटरसाइकिल

मोटरसाइकिल दो लोगों की कड़ी मेहनत से बना नया उपकरण है। इसे सन 1885 में गॉटलिब डेमलयर तथा विल्हेम मेबैक ने मिलकर बनाया था। इस उपकरण ने यातायात के साधन के रूप में क्रांति फैलाई है।

8. विद्युत बल्ब

विद्युत बल्ब का आविष्कार 1879 में अमेरिका में हुआ था। इसको अमेरिकी वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन ने बनाया था।

रखो इकट्ठा साक्ष्य प्रमाण,
क्योंकि यह हमारा विज्ञान।

कुछ विशेष योगदान

आज विज्ञान का योगदान प्रत्येक क्षेत्र में है। एक छोटी सी पिन से लेकर अंतरिक्ष यान तक सभी विज्ञान की ही देन है।

विज्ञान ने मनुष्यों को अनगिनत चीजें प्रदान की है जैसे- हीट एक्सचेंजर, एयर प्रेशर मीटर, कैमरे की अलग-अलग वैरायटी, टेलीस्कोप, टेलीग्राम, टेलीप्रिंटर्स, माइक्रोफोन, केलकुलेटर, टेप, इंसानी रोबोट, अलग अलग तरीके के हथियार, आधुनिक मशीनें, स्मार्टफोन, खिलौने, कृषि के नए-नए उपकरण और चिकित्सा में उपयोग किए जाने वाले आधुनिक उपकरण आदि को विज्ञान ने ही हमें दिया है।

विज्ञान सरलता से अपनी,
श्रेष्ठता का परिचय देता है।

सूचना व संचार के क्षेत्र में विकास

विज्ञान की तरक्की के कारण ही मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, आदि का आविष्कार हुआ है। इसी के माध्यम से हम सभी से जब चाहे तुरंत बात कर सकते हैं, जबकि पुराने समय में सभी लोग चिट्ठी-पत्र का उपयोग संचार के लिए करते थे।

लोगों को पहले अपनों से बात करे, उन्हें देखे हुए, सालों हो जाते थे मगर आज इन संचार के साधनों के माध्यम से हम दूर बैठे लोगों से कभी भी और कहीं से भी वीडियो कॉल कर सकते हैं और उन तक अपना संदेश भी पहुंचा सकते हैं।

मोबाइल, लैपटॉप, आदि में आज ऐसे-ऐसे फीचर्स आ गए हैं जिनके माध्यम से हमारा कोई भी संदेश एक सेकेण्ड के अंदर दूसरे लोगों तक पहुंच जाता है।

विज्ञान का आविष्कार सबसे अच्छा,
जो प्रकृति को प्रदूषित नहीं करता है।

निष्कर्ष

विज्ञान हमारे जीवन में मुख्य भूमिका अदा करता है तथा मानव जाति को विज्ञान एक उपहार के रूप में सुविधा भी प्राप्त है।

जिनका उपयोग मनुष्य दैनिक जीवन के कार्यों में तो करता ही है साथ ही साथ प्राकृतिक आपदाओं से बचने के लिए भी मनुष्य विज्ञान का ही सहारा लेता है।


मेरे प्यारे दोस्तों! मुझे पूरी उम्मीद हैं की मेरे द्वारा लिखा गया विज्ञान के चमत्कार निबंध 2023 आपको जरूर पसंद आया होगा।

आप Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi को अपने करीबी दोस्तों या रिश्तेदारों को जरूर शेयर कीजियेगा, जिनको इस निबंध की अति आवश्यकता हो।

Leave a Comment