डिजिटल इंडिया पर निबंध 2023 {अलग-अलग शब्द सीमा एवं भाषण सहित} Digital India Essay In Hindi

Digital India Essay In Hindi, भारत सरकार ने 2015 में एक अभियान शुरू किया था, जिसका नाम था डिजिटल भारत अभियान। इसका उद्देश्य इंटरनेट के माध्यम से पूरे देश में क्रांति लाना था। इस अभियान को माननीय प्रधानमंत्री जी ने इस उद्देश्य से लगाया था कि सरकारी सेवाएं उन्नत हो सके तथा कागजी-कामकाज भी काम हो सके।

डिजिटल इंडिया पर निबंध
डिजिटल इंडिया पर निबंध

EssayToNibandh.com पर आज हम ‘Digital India Essay In Hindi’ पढ़ेंगे। जो की अलग अलग शब्द सीमा के आधार पर लिखे गए हैं। आप डिजिटल इंडिया निबंध को ध्यान से और मन लगाकर पढ़ें और समझें।

Digital India Nibandh In Hindi को निम्न शब्द सीमा के आधार पर लिखा गया है-

आइये! Digital India In Hindi Nibandh को अलग अलग शब्द सीमाओं के आधार पर पढ़ें। नोट- यहां पर दिया गया डिजिटल इंडिया निबंध कक्षा(For Class) 1, 2, 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, 12,(विद्यालय में पढ़ने वाले) विद्यार्थियों के साथ-साथकॉलेज के विद्यार्थियों के लिए भी मान्य हैं।

Digital India Par Lekh 100 Words In Hindi

1 जुलाई 2015 को हमारे माननीय वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने डिजिटल इंडिया नामक एक अभियान की शुरुआत की।

इस अभियान के माध्यम से बना मजबूत डिजिटल इंफ्रास्ट्लचर सभी देशवासियों के बीच डिजिटल जागरूकता पैदा करेगा।

सब सीखेंगे इंटरनेट,
क्योंकि हाई मिलने का इंटरनेट!

देशभर में वर्तमान समय में ई-गवर्नेंस, वित्तीय लेनदेन आदि को मजबूत करने के लिए और डिजिटल बुनियादी ढांचे का निर्माण करने के लिए यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस के माध्यम से भुगतान करने पर जोर दिया जा रहा है।

इस पूरी डोमेन में पारदर्शिता व जवाबदेही आई है। डिजिटल जागरूकता पैदा करने तथा देश के प्रत्येक लेन-देन की पारदर्शिता को बढ़ावा देने के कारण वरदान साबित हुआ है।

Digital India Par Nibandh 150 Words In Hindi

डिजिटल इंडिया का मुख्य उद्देश्य है कि जनता तक सभी सेवाएं इलेक्ट्रॉनिक रूप से पहुंचाई जा सके। इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि ग्रामीण इलाकों तक भी इंटरनेट की हाई स्पीड की सुविधा को पहुंचाया जा सके।

डिजिटल इंडिया के मुख्य तीन घटक

  • डिजिटल आधारभूत ढांचे का निर्माण करना।
  • इलेक्ट्रॉनिक रूप से सेवाओं को जनता तक पहुंचाना।
  • डिजिटल साक्षरता।

डिजिटल इंडिया आया है,
नये रोजगार लाया है।

यह योजना भारत में क्रांतिकारी बदलाव लाने के लिए शुरू की गई एक मुहिम है। इस मुहिम की शुरुआत 1 जुलाई 2015 को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इंद्रागांधी इनडोर स्टेडियम में की गई।

डिजिटल इंडिया योजना का सिद्धांत है, पावर टू एम्पावर। इसका लक्ष्य दूरदराज के क्षेत्रों में डिजिटलाइजेशन करना है। इसके अंतर्गत भारतनेट, मेक इन इंडिया, स्टार्टअप, इंडिया और स्टेंडअप इंडिया, इंडस्ट्रियल कॉरिडोर, भारतमाला, सागरमाला, जैसी योजनाएं सम्मलित है।

इस योजना के कारण लोगों को काफी क्षेत्रों में लाभ मिलेगा तथा इंडिया का विकास भी काफी तेजी से होगा।

Digital India Essay In Hindi 200 Words

भारत को बाकी देशों की तरह विकसित होने के लिए तथा डिजिटल बनाने के लिए यहां डिजिटल इंडिया योजना की शुरुआत की गई।

इस योजना को पूर्ण करने के प्रयास में प्रथम घटक है, इंफ्रास्ट्रक्चर: इसका अर्थ है भारत के प्रत्येक क्षेत्र में डिजिटल सेवाएं पहुंचाने के लिए एक मजबूत एवं बुनियादी ढांचा तैयार करना।

डिजिटल इंडिया होगा तो,
काले धन का नामोनिशान खत्म होगा।

इसमें विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों पर अधिक बल दिया गया है, ताकि भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में भी डिजिटाइजेशन किया जा सके।

इसके अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में भी नेटवर्किंग तथा इंटरनेट की सुविधा पहुंचाने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है।

इसी क्रम में दूसरा घटक है, डिजिटल सेवा का वितरण: अर्थात भारत सरकार द्वारा की जाने वाली किसी भी सहायता या सेवा का डिजिटल रूप से सही वितरण करना।

कागजों का उपयोग कम होगा,
हाई स्पीड इंटरनेट का दम होगा।

इससे भ्रष्टाचार में काफी कमी आई है। डिजिटल भारत का तीसरा महत्वपूर्ण घटक है, डिजिटल साक्षरता: अर्थात टेबलेट, डेस्कटॉप, स्मार्टफोन, कंप्यूटर और लैपटॉप जैसे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का सभी को ज्ञान होना।

इस डिजिटल भारत अभियान के तहत भारत के लगभग 6 करोड़ ग्रामीण परिवारों को शामिल करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

इस अभियान के सरंक्षक के रूप में भारत की राष्ट्रीय ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क का संचालन करने वाली कंपनी भारत ब्रॉडबैंड नेटवर्क लिमिटेड (BBNL) है।

Digital India Essay In Hindi 200 Words

प्रस्तावना

भारत सरकार द्वारा डिजिटल इंडिया अभियान नाम से शुरू किया यह अभियान इंटरनेट के माध्यम से देश में क्रांति लाएगा ताकि देश को मजबूत बनाया जा सके।

डिजिटल भारत की शुरुआत

1 जुलाई सन 2015 को दिल्ली के इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम में टाटा ग्रुप के चेयरमैन साइरस मिस्त्री, आरआईएल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी, विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी आदि जैसे और उद्योगपतियों की उपस्थिति में डिजिटल इंडिया अभियान की शुरुआत की गई थी।

डिजिटल इंडिया बनाओ,
देश को आगे बढ़ाओ।

भारत सरकार ने इस विशाल संकलन को देश के विभिन्न क्षेत्रों में सरकारी सेवाओं तक आसानी से पहुंचने के लिए लागू कर दिया है।

आज लगभग देश के 60% से भी ज्यादा लोग इस अभियान से जुड़ चुके हैं तथा सरकारी सेवाओं का लाभ उठा रहे हैं।

देश भर में करोड़ों लोग इस कार्यक्रम के तहत प्रौद्योगिकी पहुंच में सुधार कर रहे हैं।

डिजिटल इंडिया अभियान की विभिन्न योजनाएं जैसे डिजिटल लॉकर, राष्ट्रीय छात्रवृत्ति, पोर्टल, ई-स्वास्थ्य, ई-शिक्षा ई-साइन आदि को शुरू किया गया।

तुम भी अपना समय बचाओ।
डिजिटल इंडिया अभियान अपनाओ।

डिजिटल इंडिया का लक्ष्य देश को डिजिटल तथा सक्षम समाज में परिवर्तित करना है। यह परियोजना सुदूर इलाके के शहरों व गांवों के लिए काफी उपयोगी है।

निष्कर्ष

डिजिटल इंडिया का समाज के हर हिस्से पर गहरा प्रभाव पड़ा। यह व्यक्तिगत तथा समाज दोनों रूप से देश पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

Digital India Par Nibandh Hindi Mein 300 Words

प्रस्तावना

डिजिटल भारत की योजना की शुरुआत दिल्ली से 1 जुलाई 2015 से हुई थी। इसकी शुरुआत के समय हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण हस्तियां भी मौजूद थी।

डिजिटल इंडिया का उद्देश्य

भारत में डिजिटल इंडिया अभियान को लाने के लिए हमारे प्रधानमंत्री जी द्वारा बहुत ज्यादा प्रयास किए गए तभी यह अभियान इतना कामयाब बन पाया है।

डिजिटल इंडिया अभियान का प्रथम तथा सबसे बड़ा उद्देश्य भारत के प्रत्येक गांव तक हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन पहुंचाना तथा लोगों को इस क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना था।

उनका प्रयास था कि देश की 2.5 लाख ग्राम पंचायतों तक ब्रॉडबैंड पहुंचाया जाए तथा प्रत्येक भारतीय को इंटरनेट के साथ जोड़ा जाए।

डिजिटल इंडिया का आधार,
हर सपना अब होगा साकार।

इस अभियान के अंतर्गत इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद को बढ़ावा दिया जा रहा है, ताकि IT क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा रोजगार पाया जा सके।

इससे यह फायदा होगा कि सरकार द्वारा कोई भी नई सूचना लाने सब कुछ ऑनलाइन होगा तथा योजना की संपूर्ण जानकारी पूरे देश में ऑनलाइन प्रदान की जा सकेगी।

डिजिटल इंडिया का उद्देश्य,
डिजिटल हो पूरा देश।

इसके कारण ग्रामीण इलाकों में नए-नए आईटी रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकेंगे। जैसे कि राजस्थान इसका बहुत ही अच्छा उदाहरण है क्योंकि वहां ई-मित्र योजना से बहुत लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्त हुए है।

निष्कर्ष

इस योजना के कारण लोगों में काफी जागरूकता बढ़ी है। लोग इंटरनेट के माध्यम से विश्व भर की गतिविधियों को जान पाते हैं तथा हर जानकारी घर बैठे-बैठे प्राप्त कर लेते हैं।

अब लोगों को कोई भी बेवकूफ नहीं बना सकता और ना ही उनसे किसी प्रकार की ठगी कर सकता है। डिजिटल इंडिया के माध्यम से सभी को लाभ मिल रहा है।

Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi
Vigyan Ke Chamatkar Essay In Hindi

Digital India Essay In Hindi 400 Words

प्रस्तावना

डिजिटल इंडिया का सबसे बड़ा उद्देश्य भारत के प्रत्येक गांव तक ब्रॉडबैंड, इंटरनेट तथा अन्य सुविधाओं को डिजिटल माध्यम से पहुंचाना है तथा देश को विकसित से विकासशील देश बनाना है।

डिजिटल इंडिया के लाभ

डिजिटल इंडिया अभियान के कारण भारत के लोगों को अनेक प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे-

  1. देश का विकास तेजी से होगा।
  2. बैंकिंग सुविधाओं का लाभ मिलेगा।
  3. गांव के बच्चों को भी शिक्षा मिलेगी।
  4. कालाबाजारी तथा भ्रष्टाचार में भी कमी आएगी।
  5. लोगों को लंबी लाइनों से छुटकारा मिलेगा।
  6. सरकारी योजना का सीधा लाभ मिलेगा।

डिजिटल इंडिया बनाओ,
देश को आगे बढ़ाओ।

डिजिटल इंडिया द्वारा नौकरियां

कौशल विकास कार्यक्रमों को डिजिटल इंडिया अभियान से जोड़े जाने का निश्चय किया गया है। इसके द्वारा लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और लोगों को ज्यादा से ज्यादा रोजगार मिलेगा।

कदम से कदम मिलाते चलो,
डिजिटल इंडिया के साथ चलते चलो।

डिजिटल इंडिया से हानि

डिजिटल इंडिया अभियान के अनेक लाभ हैं किंतु इस अभियान की कुछ हानियां भी है, जो निम्न प्रकार से है-

  1. मनुष्य मशीनों का आदी होता जा रहा है।
  2. सभी के लिए इंटरनेट का प्रयोग जरूरी हो गया है।
  3. लोग सामाजिक तौर पर एक-दूसरे से दूर होने लगे हैं।
  4. साइबर क्राइम का खतरा बढ़ता जा रहा है।
  5. इंटरनेट की बढ़ती कीमतों के कारण गरीब लोगों को काफी ज्यादा परेशानी हो रही है।

जुड़ेंगे शहर ग्राम के संग,
सूचना पाना अब होगा सुगम।

डिजिटल इंडिया (भाषण)

  • आदरणीय प्रधानाचार्य जी एवं समस्त शिक्षक व शिक्षिकाओं और मेरे प्यारे भाई-बहनों आप सभी को मेरा नमस्कार!
  • आज मैं डिजिटल इंडिया अभियान से जुड़े कुछ तथ्य तथा जानकारी सभी से साझा करना चाहूंगा।
  • विश्व के विकसित देशों में भारत भी शामिल हो पाए इसलिए हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा भारत में इस अभियान की शुरुआत दिल्ली में 1 जुलाई 2015 से की गई।
  • इस अभियान की शुरुआत के समय अनेक महान हस्तियां उपस्थित थी, जिसमें पीएम श्री नरेंद्र मोदी जी व अनिल अंबानी जी मुख्य थे। इस योजना के तहत पूरे भारत के लोगों को इंटरनेट से जोड़ना था।
  • सरकार ने बैंकिंग, बिल भुगतान, रेलवे टिकट, आदि लगभग सभी चीजों को इंटरनेट के साथ जोड़ दिया, जिससे लोगों को काफी लाभ हुआ।
  • इसका सबसे बड़ा लाभ यह हुआ है, कि लोग काफी जागरूक हुए हैं और भ्रष्टाचार में काफी कमी आई है।

डिजिटल इंडिया का विस्तार,
रोजगार अवसर लाएगा अपार।

निष्कर्ष

देश के विकास की गति को और भी ज्यादा तीव्र करने के लिए प्रधानमंत्री जी ने डिजिटल इंडिया अभियान का शुभारंभ किया। इससे अनेक लाभ हुए हैं तथा कुछ हानियां भी हुई है। लेकिन इसके कारण देश में काफी जागरूकता फैल है।

Digital India Nibandh 500 Words In Hindi

प्रस्तावना

भारत सरकार ने 2015 में एक अभियान शुरू किया था, जिसका नाम था डिजिटल भारत अभियान। इसका उद्देश्य इंटरनेट के माध्यम से पूरे देश में क्रांति लाना था।

इस अभियान को माननीय प्रधानमंत्री जी ने इस उद्देश्य से लगाया था कि सरकारी सेवाएं उन्नत हो सके तथा कागजी-कामकाज भी काम हो सके।

कागजी काम होगा आपका
डिजिटल होगा देश का जन-जन।

इंडिया की प्रमुख योजनाएं

इस क्षेत्र में सबसे पहली योजना ई-गवर्नेंस है, जो की निम्न प्रकार है-

1. ब्रॉडबैंड सुविधा

इस सुविधा के अंतर्गत करीब ढाई लाख पंचायतों को डिजिटल भारत से जोड़ने का प्लान बनाया गया है। इसके अंतर्गत ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क को देश भर में फैलाने के लिए 2016-2017 में योजना बनाई गई।

2. घर-घर में मोबाइल

2015 में ई-मार्केट के एक सर्वेक्षण के अनुसार, भारत में 2019 में 800 मिलीयन से अधिक मोबाइल फोन उपयोगकर्ता आंके गए।

3. राष्ट्रीय ग्रामीण इंटरनेट मिशन

इंटरनेट की सुविधा शहरों में तो थी किंतु गांवों में इसकी कमी थी। इसी कारण इस योजना को गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय ग्रामीण इंटरनेट मिशन की शुरुआत की गई।

डिजिटल इंडिया का उद्देश्य,
डिजिटल हो पूरा देश।

4. ई-क्रांति

ई-क्रांति अथवा इलेक्ट्रॉनिक डिलीवरी ऑफ़ सर्विस के अंतर्गत नियोजन, कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, वित्तीय समावेशन, न्याय और सुरक्षा के क्षेत्रों में प्रौद्योगिकी की को बढ़ावा देना शामिल है।

5. सभी के लिए सूचना

इस योजना का उद्देश्य देश के सभी लोगों को ऑनलाइन जानकारी प्रदान करना और वेबसाइटों के प्रति जागरूक करना है।

6. इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण

इस क्षेत्र में, आने वाले दिनों में ‘नेट शून्य आयात’ का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य में कराधान, प्रोत्साहन, पैमाने की अर्थव्यवस्था जैसी चीजों पर कार्यवाही की जाएगी तथा लागत के नुकसान को खत्म करना होगा।

7. आईटी नौकरियां

इस के अंतर्गत शहरों के साथ-साथ गांवों तथा कस्बों के लोगों को भी आईटी सेंटर की नौकरियों के काबिल बनाने के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाएगी।

ऐसा करने से छोटे शहरों तथा गांवों के लोगों को भी इस क्षेत्र में लाभ एवं विकास होगा।

8. प्रारंभिक सफल कार्यक्रम

इसके तहत ग्रामीणों के लिए अनेक योजनाएं चलाये जाने का निश्चय किया गया। जिनमें इंटरनेट के माध्यम से बहुत सारी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएगी।

डिजिटल सेवाएं मिलेगी,
आधारिक संरचना सुधरेगी।

डिजिटल इंडिया के प्रमुख कार्य-

  1. प्रत्येक नागरिकों को डिजिटल इंडिया की उपयोगिता से रूबरू करवाना।
  2. नागरिक की मांग पर शासन और सेवाएं प्रदान करना।
  3. हर नागरिक को डिजिटल शक्ति प्रदान करना है।

भाषण (speech on digital india in hindi)

  • आदरणीय अतिथिगणों एवं मेरे प्यारे दोस्तों आज मैं आप सभी के साथ डिजिटल इंडिया अभियान से संबंधित कुछ जानकारियां सांझा करना चाहूंगा।
  • हमारा देश पिछड़ा हुआ है तथा विकास की कगार पर है इसलिए हमारे देश को इस योजना की वास्तव में अत्यधिक आवश्यकता है।
  • डिजिटल इंडिया के माध्यम से सरकार देश के प्रत्येक व्यक्ति तक शिक्षा एवं इंटरनेट पहुंचाना चाहती है ताकि हमारा देश बाकी देशों से आगे निकल सके।
  • डिजिटल इंडिया के माध्यम से सरकार लोगों को अनेक सुविधाएं प्रदान करेगी। जैसे लोग आधार कार्ड व पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन ही आवेदन कर पाएंगे, ब्रॉडबैंड की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी, ई-क्रांति तथा ई-गवर्नेंस क्षेत्रों में काफी विकास होगा।
  • इस अभियान से देश की व्यवस्था में काफी सुधार होगा और सामान्य नागरिकों को आसान तौर पर ऑनलाइन ही काफी सुविधा प्रदान की जाएगी।

निष्कर्ष

विज्ञान और तकनीकी के क्षेत्र में जिस-जिस देश में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है, वह प्रगति के मार्ग पर काफी आगे हैं।

इसलिए हमारे देश को भी ज्यादा से ज्यादा विज्ञान और तकनीकी पर ध्यान देना चाहिए। इस क्षेत्र में डिजिटल भारत अभियान देश के लिए काफी मददगार साबित हुआ है।


मेरे प्यारे दोस्तों! मुझे पूरी उम्मीद हैं की मेरे द्वारा लिखा गया डिजिटल इंडिया निबंध आपको जरूर पसंद आया होगा। आप Digital India Essay In Hindi को अपने करीबी दोस्तों या रिश्तेदारों को जरूर शेयर कीजियेगा, जिनको इस निबंध की अति आवश्यकता हो।

Leave a Comment